कैंसर जैसी घातक बीमारी से जूझ रहे हैं पुतिन, अमेरिकी रिपोर्ट से मचा हड़कंप

0
1652

रूस के सामने भी चुनौतियां कम नहीं हैं. भले ही रूसी आर्मी यूक्रेन को तबाह करने में कोई कसर नहीं छोड़ रही है लेकिन नुकसान उसको भी हो रहा है. पिछले महीने राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन 70 साल के हो गए. कुछ दिन पहले सोशल मीडिया पर उनकी कुछ तस्वीरें वायरल हो रहीं थीं. इन तस्वीरों में उनके हाथों पर अजीब रंग के कुछ निशान दिख रहे थे. इसके बाद ये सवाल उठने लगे थे कि क्या पुतिन किसी बीमारी से जूझ रहे हैं?

दावा किया जा रहा है कि पुतिन के हाथ पर सिरिंज के निशान हैं. एक रिटायर ब्रिटिश सेना अधिकारी और हाउस ऑफ लॉर्ड्स के सदस्य रिचर्ड डैनट ने स्काई न्यूज को बताया कि रूसी राष्ट्रपति का स्वास्थ्य अच्छा नहीं है. लॉर्ड डैनट ने बताया कि उनके हाथ ऊपर से काफी काले दिख रहे हैं. इसका मतलब ये है कि उनके शरीर में अब और इंजेक्शन नहीं लगाए जा सकते इसलिए वो हाथों पर इंजेक्शन ले रहे हैं. उन्होंने कहा कि यह ध्यान रखना दिलचस्प है. सिर्फ यह देखना है कि क्या वह उतना ही फिट है जितना दिखाना चाहता है.

अमेरिकी खुफिया रिपोर्ट में खुलासा
एक अमेरिकी खुफिया रिपोर्ट ने यह भी सुझाव दिया था कि व्लादिमीर पुतिन कुछ महीने पहले से कैंसर जैसी घातक बीमारी से पीड़ित हो सकते हैं. व्लादिमीर पुतिन पिछले महीने 70 साल के हो गए है. यूक्रेन-रूस युद्ध को भारी नुकसान के बीच अपने शासन के लिए सबसे बड़ी चुनौती का सामना करना पड़ रहा. 1962 के क्यूबा मिसाइल संकट के बाद से पश्चिम के साथ सबसे गंभीर टकराव शुरू हो गया. स्काई न्यूज ने जनरल एसवीआर टेलीग्राम चैनल का हवाला देते हुए पहले बताया था कि व्लादिमीर पुतिन महत्वपूर्ण युद्ध कक्ष बैठकों से पहले दर्द के बारे में भी शिकायत कर रहे हैं.

 

पेट में हो रहा है दर्द
रिपोर्ट में कहा गया है कि पुतिन के पेट में दर्द उठ रहा है और ये ऐसी समस्या है जिससे तुरंत निजात नहीं पाया जा सकता है. इसलिए पुतिन जब भी बैठकों में भाग लेते हैं तो खुद को नॉर्मल दिखाने की पूरी कोशिश करते हैं इसके लिए वो आगे की ओर झुककर बैठक कर रहे हैं.

वायरल हुए वीडियो से उठा सवाल
पिछले दिनों पुतिन से जुड़े दो वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहे थे. पुतिन के हाथों में जो दाग थे उनको छिपाने के लिए वॉटरमार्क का इस्तेमाल किया जाता था. इसके बाद जब ये वीडियो तेजी से वायरल होने लगे तो दोनों को डिलीट कर दिया गया. वीडियो में दिख रहा है कि पुतिन एक ट्रेनिंग कैंप पर गए हैं, जहां रूसी सैनिक मौजूद हैं. यहां पुतिन ने एक स्नाइपर राइफल भी चलाई. यूक्रेन के एक पूर्व पत्रकार टॉम वार्नर ने तर्क दिया कि ये रहस्यमय निशान उनकी उभरी हुई नसें हो सकती हैं.