बिहार में नई सरकार का गठन हो चुका है. हाल ही में बिहार में जेडीयू और आरजेडी की सरकार बनी है लेकिन नई सरकार के बनते ही सियासी पलटवार का दौर शुरू हो चुका है. कभी मंत्री कार्तिकेय सिंह को लेकर बिहार की राजनीति गर्मा जाती है तो कभी बिहार को जंगलराज बता दिया जाता है.

लेशी सिंह पर भड़की बीमा भारती

आपको बता दें कि फिलहाल नए विवाद में मंत्री लेशी सिंह के खिलाफ मोर्चा खोलने वाली विधायक बीमा भारती को लेकर बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने नाराजगी जताई है. उन्होंने कहा कि, सबको मंत्री नहीं बना सकते हैं जिसको जहां जाना हो जाए. बता दें कि लेशी सिंह और बीमा भारती दोनों जेडीयू के विधायक हैं और दोनों ही नेता पहले मंत्री बन चुकी हैं. हालांकि, बड़ी बात ये है कि इस बार लेशी सिंह को मंत्री बनाया गया लेकिन बीमा भारती को मंत्री बनने का मौका नहीं मिला.

भड़क गईं बीमा भारती

ऐसे में बीमा भारती भड़क गई और उन्होंने आरोप लगाया कि, लेशी सिंह अपराधी प्रवृत्ति की है. इतना ही नहीं उन्होंने आगे कहा कि, लेशी सिंह का काम धमकाने और रंगदारी करने का है और जो उसके खिलाफ बोलता है उसका वह मर्डर कराती हैं. बता दें कि बीमा भारती ने आगे कहा कि, गलत लोगों को कैबिनेट में जगह दे दी गई है उन्हें फौरन मंत्रिमंडल से हटाया जाए नहीं तो हम इस्तीफा दे देंगे.

नीतीश कुमार ने जताई नाराजगी

बताते चलें कि, इस पूरे मामलें पर मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने नाराजगी जताई है और कहा है कि बीमा भारती से कह दिया है कि उनको ऐसे बयान नहीं देने चाहिए. बिहार के सीएम नीतीश कुमार ने आगे कहा कि मैं हैरान हूं कि बीमा भारती ने ऐसा बयान दिया है. जब उन्हें पढ़ना लिखना नहीं आता था तब हमने उन्हें सिखाया, उनको इज्जत दी इसके बाद उन्होंने ऐसा बयान दिया. उन्होंने कहा कि, हम बीमा भारती से बात करेंगे और उनको पार्टी के बारे में ऐसे बयान नहीं देने के लिए समझाएंगे. अगर वो नहीं समझेंगी और उन्हें जाना होगा तो वो जा सकती हैं.

Also Read -   ट्विन टावर के साथ ढहें करोड़ों रूपए, जानिए उन चंद सेकेंडों के बारे में जब मिट्टी में समाई पूरी इमारत