मल्लिकार्जुन खड़गे ने संभाला कांग्रेस अध्यक्ष पद

0
468

कांग्रेस की पूर्व अध्यक्ष सोनिया गांधी ने मल्लिकार्जुन खड़गे को पार्टी का नया अध्यक्ष बनने पर बधाई दी है। मल्लिकार्जुन खड़गे के शपथ ग्रहण समारोह में भाषण देते वक्त सोनिया गांधी ने कहा कि पार्टी की जीत भारत की जीत है। मैं नवनिर्वाचिक कांग्रेस अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खड़गे जी तहे दिल से को बधाई देती हूं। मैं उनके प्रति अपना कृतज्ञता प्रकट करती हूं। मल्लिकार्जुन खड़ग के पार्टी अध्यक्ष बनने पर सोनिया गांधी ने कहा कि खड़गे जी अनुभवी नेता हैं, वह पार्टी के साधारण कार्यकर्ता से यहां तक पहुंचे हैं, वह अपनी कड़ी मेहनत की वजह से यहां पहुंचे हैं। वह पार्टी कार्यकर्ताओं के लिए प्रेरणा के स्रोत बनेंगे। मैं अब राहत महसूस कर रही हूं।

सोनिया गांधी ने अपने भाषण के दौरान इस बात को भी स्वीकार किया कि पार्टी की कमजोर हुई है और इसे ठीक करने की जरूरत है। सोनिया गांधी ने कहा कि कांग्रेस ने कई चुनौतियों का सामना किया, इससे पहले भी कई चुनौतियां का पार्टी ने सामना किया है। लेकिन कांग्रेस ने कभी भी हार को स्वीकार नहीं किया। हमे लड़ना होगा और आगे बढ़ना होगा। मैं आप सभी लोगों का शुक्रिया अदा करती हूं जिन्होंने मेरा साथ दिया। मैं मधुसूदन मिस्त्री का शुक्रिया अदा करना चाहती हूं जिन्होंने कांग्रेस अध्यक्ष पद के चुनाव को सुगमता से संपन्न कराया।

सोनिया गांधी ने कहा यह सम्मान बहुत बड़ी जिम्मेदारी भी थी, मुझसे अपनी क्षमता व योग्यता अनुसार जितना हो सका, उतना किया। आज मैं इस दायित्व से मुक्त हो जाऊंगी, इसलिए मुझे स्वाभाविक रूप से राहत का एहसास हो रहा है। मैं आप सबको दिल से धन्यवाद देती हूं कि आप सबने मुझे इतना सहयोग व समर्थन दिया। अब यह जिम्मेदारी खरगे जी के पास है, परिवर्तन संसार का नियम है, परिवर्तन जीवन के हर क्षेत्र में होता रहा है और आगे भी होता रहेगाआज हमारी पार्टी के सामने भी बहुत सारी चुनौतियां हैं। सबसे बड़ी चुनौती यह है कि आज देश के सामने लोकतांत्रिक मूल्यों का संकट पैदा हुआ है, उसका मुकाबला हम सफलतापूर्वक कैसे करें। मुझे विश्वास है कि पार्टी के सभी कार्यकर्ता और नेता आपस में मिलजुलकर एक ऐसी शक्ति बनेंगे, जो हमारे देश के सामने हर संकट का सफलतापूर्वक सामना कर सके। कांग्रेस के सामने पहले भी बड़े-बड़े संकट आए हैं, लेकिन पार्टी ने कभी हार नहीं मानी। हमें अब भी पूरे संकल्प के साथ, पूरी मजबूती के साथ, पूरी एकता के साथ आगे बढ़ना है

 

सोनिया गांधी ने कहा कि कांग्रेस सिर्फ एक राजनीतिक दल नहीं है, बल्कि कई वर्षों से देश के लिए आंदोलन रही है। हमारी सबसे बड़ी चुनौती लोकतंत्र को बचाने की रही है। बता दें कि मल्लिकार्जुन खड़गे ने दिल्ली स्थित कांग्रेस पार्टी के मुख्यालय में पार्टी अध्यक्ष की कमान संभाली। मधुसूदन मिस्त्री ने उन्हें अध्यक्ष पद का कार्यभार सौंपा। मिस्त्री ने कहा मुझे उम्मीद है कि अन्य दल भी कांग्रेस अध्यक्ष पद के लिए हुए चुनाव से सीख लेंगे और गुप्त मतदान से चुनाव कराएंगे।