बिहार की राजनीति में उतार-चढ़ाव थमने का नाम नहीं ले रहा है. बता दें कि राज्यसभा सांसद सुशील मोदी का कहना है कि नीतीश कुमार की उल्टी गिनती शुरू हो गई है. बिहार में कभी भी सरकार पलट सकती है. उनका कहना है कि आरजेडी को सरकार बनाने के लिए सिर्फ पांच से छह विधायक चाहिए, स्पीकर उनका है और मांझी से चार लोग कभी भी पाला बदल सकते हैं. आरजेडी-जेडीयू के केवल दो तीन विधायकों को भी तोड़ लेगा तो उनकी सदस्यता खत्म नहीं कर सकता है. ऐसे में नीतीश कुमार अब अपनी पार्टी को बचाएं.

IRCTC घोटाला

मिली जानकारी के मुताबिक, सुशील मोदी ने कहा कि बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार को लगता है कि डिप्टी सीएम आईआरसीटीसी घोटाले में जेल चले जाएंगे उसके बाद उनकी पार्टी तोड़ देंगे. वहीं, सुशील मोदी ने आगे दावा किया कि दोनों दल एक दूसरे को तोड़ने की फिराक में है ऐसे में देखना होगा कि कौन किसको पहले तोड़ता है.

गुलाब नबी आजाद का इस्तीफा

इतना ही नहीं शुक्रवार को गुलाम नबी आजाद के कांग्रेस से इस्तीफा देने पर सुशील मोदी ने कहा कि, कांग्रेस एक डूबता हुआ जहाज है और इस जहाज को लोग छोड़ कर जा रहे हैं. उन्होंने आगे कहा कि नीतीश कुमार को लगता है कि दूसरे जहाज पर सवार हो जाएंगे तो हो सकता है कि प्रधानमंत्री पद के उम्मीदवार बन जाएंगे लेकिन ऐसा होगा नहीं. बताते चलें कि सुशील मोदी ने इशारों-इशारों में बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार पर तंज कसा है और लोकसभा चुनाव 2024 में प्रधानमंत्री पद के उम्मीदवार को लेकर उम्मीदें तोड़ने की कोशिश की है. बहरहाल, देखना होगा कि बिहार में अब और क्या नए सियासी बदलाव आ सकते हैं.

Also Read -   पहले किया मना अब फ्लोर टेस्ट से पहले दिया इस्तीफा, जानिए पूरा समीकरण