बिहार में जब से नई सरकार का विस्तार हुआ है तब से बिहार की राजनीति में भूचाल आ गया है. मंगलवार को नई सरकार की कैबिनेट का विस्तार हुआ जिसमें 31 मंत्रियों ने मंत्री पद की शपथ ली. बता दें कि राजनीतिक गलियारें इसलिए गर्म हैं क्योंकि इसमें जिन मंत्रियों को जगह मिली है वो तो खुश हैं लेकिन जेडीयू के कुछ विधायकों को कैबिनेट में जगह नहीं मिली है जिसकी वजह से उन्होंने नाराजगी जाहिर की है.

JDU के विधायक नाराज

आपको बता दें कि बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने 31 नए मंत्रियों को अपनी कैबिनेट में शामिल किया है जिसमें आरजेडी से 16 मंत्री शामिल हैं लेकिन जेडीयू के 5 विधायक नाराज है जिसकी वजह से वो शपथ ग्रहण समारोह में भी शामिल नहीं हुए. बता दें कि राजभवन में आयोजित समारोह में परबट्टा विधायक डॉ संजीव कुमार, विधायक पंकज कुमार मिश्रा, बरबीघा विधायक सुदर्शन कुमार, मटिहानी विधायक राजकुमार सिंह और केसरिया विधायक शालिनी मिश्रा शामिल नहीं हुए.

RJD के 16 मंत्री शामिल

बताते चलें कि मंत्री परिषद में से 11 मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की जेडीयू से, दो कांग्रेस से और एक पूर्व सीएम जीतन राम मांझी की हम से तथा एक निर्दलीय से है. इसमें सबसे ज्यादा मंत्री राजेडी से बनाए गए हैं. बताते चलें कि राजेडी के 16 मंत्री शामिल हैं. वहीं, बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की जेडीयू के पास वित्त और गृह विभाग आया है. इसके अलावा बिहार के उपमुख्यमंत्री तेजस्वी यादव के पास स्वास्थ्य विभाग और तेज प्रताप के पास वन एवं पर्यावरण मंत्रालय आया है.

Also Read -   बिहार में नीतीश की जगह तेजस्वी बनेंगे सीएम? जानिए सुशील मोदी ने क्यों लगाए ऐसे कयास