5 State Assembly Election 2023: राजस्थान, मध्य प्रदेश समेत 4 राज्यों में मतदान पूरा, जानिए 119 विधानसभा सीटों के लिए तेलंगाना में कब होगा?

0
6821
फाइल फोटो

राजस्थान, मध्य प्रदेश, छत्तीसगढ़ और मिजोरम के बाद अब तेलंगाना में 119 विधानसभा सीटों के लिए मतदान होना है जिसके लिए सियासी घमासान मचा हुआ है. इसी कड़ी में केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने चुनावी राज्य तेलंगाना में प्रेस कांफ्रेंस करके राज्य के मुख्यमंत्री के चंद्रशेखर राव की सरकार पर जमकर हमला बोला. गृहमंत्री ने कहा कि तेलंगाना की जनता का एक वोट यहां का और देश का भविष्य तय करेगा. उन्होंने कहा बीआरएस की सरकार में तमाम घोटाले हुए, शराब घोटाला हम सब जानते ही हैं. बता दें कि केंद्रीय गृह मंत्री शाह यहीं नहीं रुके उन्होंने आगे ये भी कहा कि, किसी भी सरकार की विश्वसनीयता उसके वादों को पूरा करने से तय होती है. इनकी सरकार में पेपर लीक हुए, ये रोजगार नहीं दे पाए.

फाइल फोटो

“हमने वादे पूरे किए, तेलंगाना सरकार ने कुछ नहीं किया”
मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, गृहमंत्री अमित शाह ने कहा कि, ’40 लाख बच्चों को फ्री शिक्षा देनी थी वो नहीं दे पाए, बेरोजगारी भत्ता नहीं दे पाए, कई विकास करने का वादा था पर उन पैसों का गबन किया गया. जनसंघ से लेकर अभी तक बीजेपी ने जितने वादे किए वो सभी पूरे किए. हमने गरीबों के लिए विकास कार्य केसीआर सरकार के सहयोग के बिना किया. अगर कांग्रेस को वोट दोगे तो वो टीआरएस-बीआरएस में चले जाएंगे, ये सब परिवारवाद को बढ़ावा दे रहे हैं. केसीआर 2G पार्टी है, ओबीसी की पार्टी 3G पार्टी है और कांग्रेस 4G पार्टी है…:

फाइल फोटो

119 विधानसभा सीटों पर 30 नवंबर को मतदान
आपको बता दें कि गृह मंत्री शाह ने ये भी बताया कि, ‘बीआरएस ने अपने घोषणा पत्र में कई वादे किए थे, उनकी सरकार में पेपर लीक हुए. भर्तियां नहीं हो पाईं. 40 लाख बच्चों को मुफ्त शिक्षा देनी थी वह भी नहीं हुआ. 7 लाख गरीबों को घर देने का वादा उन्होंने पूरा नहीं किया. पीएम मोदी ने इसका प्रयास किया है. केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने कहा, मैं तेलंगाना के लोगों से सही विकल्प के साथ जाने की अपील करता हूं, मुझे विश्वास है कि तेलंगाना के जागरूक मतदाता अपना वोट डालने से पहले हर चीज का ठीक से विश्लेषण करेंगे और हर चीज की पृष्ठभूमि को ध्यान में रखेंगे…’ बताते चलें कि तेलंगाना में 119 विधानसभा सीटों पर 30 नवंबर को मतदान होना है, देखना होगा कि आखिर राज्य में किसकी सरकार बनती है.