Ram Mandir: राम मंदिर उद्घाटन समारोह में शामिल होंगी सोनिया गांधी और मल्लिकार्जुन खड़गे ?यहां जानिए गेस्ट लिस्ट

0
12448
फाइल फोटो

अयोध्या में राम मंदिर का उद्घाटन समारोह 22 जनवरी को होने जा रहा है और इसे ऐतिहासिक बनाने के लिए हर संभव तैयारी की जा रही है. लगभग तैयारी पूरी भी हो चुकी है लगातार बड़े-बड़े नेता इन तैयारियों की समीक्षा भी कर रहे हैं. इसके साथ ही अब वीवीआईपी लोगों को निमंत्रण भेजे जा चुके हैं. बता दें कि राम मंदिर के प्राण प्रतिष्ठा समारोह के लिए कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष मलिकाअर्जुन खड़गे और पार्टी की वरिष्ठ नेता सोनिया गांधी को भी निमंत्रण भेजा जा चुका है. वहीं, पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह को भी निमंत्रण भेजा गया. हालांकि, वह खराब स्वास्थ्य के चलते इस समारोह में शामिल नहीं हो सकेंगे.

फाइल फोटो

सोनिया-खड़गे के शामिल होने की संभावना कम!
मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, राम मंदिर निर्माण समिति के अध्यक्ष और ट्रस्ट के सदस्य नृपेंद्र मिश्रा, आरएसएस के अखिल भारतीय संपर्क प्रमुख रामलाल और VHP के अंतरराष्ट्रीय कार्यकारी अध्यक्ष आलोक कुमार ने सोनिया गांधी और मल्लिकार्जुन खड़गे से मुलाकात की और उन्हें समारोह में आने के लिए आमंत्रित किया. वहीं, कांग्रेस के सूत्रों के मुताबिक, दोनों के शामिल होने की संभावना कम है. वहीं, प्रतिनिधिमंडल ने पूर्व राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद और पूर्व प्रधानमंत्री एचडी देवेगौड़ा से भी मुलाकात की और उन्हें इस समारोह में आमंत्रित किया. बता दें की सभी राजनीतिक दलों के प्रमुखों को भी आमंत्रित किया गया है. हालांकि, मुख्यमंत्रियों और राज्यपालों को आमंत्रित किए जाने की कोई ख़बर नहीं है.

फाइल फोटो

प्राण प्रतिष्ठा के बाद विशेष व्यवस्था
आपको बता दें कि विहिप के एक वरिष्ठ नेता का कहना है कि बेशक हर किसी को नहीं बुलाया जा सकता है क्योंकि आयोजन में भारी भीड़ इकट्ठा हो सकती है लेकिन प्राण प्रतिष्ठा समारोह के बाद अयोध्या आने के लिए सभी का गर्म जोशी से स्वागत है. वहीं, सूत्रों के मुताबिक, प्रत्येक राज्य के लिए अभिषेक समारोह के बाद मंदिर के दर्शन के लिए एक दिन तय किए जाएंगे कुछ विशेष ट्रेनों की भी व्यवस्था की जा सकती है. बताया जा रहा है कि मुख्यमंत्री को भी उनके राज्य के भक्तों के साथ दर्शन के लिए आमंत्रित किया जाएगा और उनके स्वागत के लिए विशेष व्यवस्था की जाएगी. बताते चलें कि समारोह के बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, आरएसएस सरसंघचालक मोहन भागवत और उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ करीब 8 हजार लोगों की जनसभा को संबोधित करेंगे. बहरहाल, कुल मिलाकर 22 जनवरी को होने वाला समारोह बेहद ही भव्य होने जा रहा है.