Rahul Gandhi: मानहानि केस में राहुल गांधी को लगा करारा झटका, नहीं बहाल होगी सांसदी…हाईकोर्ट ने खारिज की याचिका

0
113

गुजरात हाईकोर्ट ने मोदी सरनेम वाली टिप्पणी को लेकर अपराधिक मानहानि मामले में कांग्रेस नेता राहुल गांधी की दोष सिद्धि पर रोक लगाने का अनुरोध करने संबंधी सभी याचिका खारिज कर दी है यानि कि राहुल गांधी की दो साल की सजा बरकरार रहेगी और उनकी सांसदी नहीं लौटेगी. हाई कोर्ट का कहना है कि इसके इसके अलावा राहुल गांधी के खिलाफ कम से कम 10 केस पेंडिंग है, ऐसे में सूरज कोर्ट के फैसले में दखल देने की जरूरत नहीं है. हाईकोर्ट के फैसले के बाद कांग्रेस ने सुप्रीम कोर्ट का रुख करने की बात कही है. कांग्रेस नेता शक्ति सिंह गोहिल ने कहा कि, लुटेरों के खिलाफ बोलने का अधिकार सभी को है. उन्होंने कहा कि हमें उम्मीद है कि सुप्रीम कोर्ट से हमें इंसाफ जरूर मिलेगा. बता दें कि राहुल गांधी को गुजरात हाईकोर्ट से करारा झटका लगा है और उनकी 2 साल की सजा पर रोक लगाने से मना हो गया है.

क्या है पूरा मामला ?

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, 23 मार्च 2023 को सूरत की सेशन कोर्ट ने राहुल गांधी को 2 साल की सजा सुनाई थी. हालांकि, इस फैसले के 27 मिनट बाद ही उन्हें जमानत मिल गई थी. वहीं, इसके अगले दिन यानी 24 मार्च को राहुल गांधी की सांसदी चली गई थी. बाते करें इस पूरे मामले की तो ये मामला साल 2019 का है जब कर्नाटक में एक जनसभा के दौरान राहुल गांधी ने मोदी सरनेम को लेकर एक आपत्तिजनक बयान दिया था…इसके बाद गुजरात के बीजेपी विधायक पूर्णेश मोदी ने राहुल गांधी के खिलाफ मानहानि का केस दर्ज कराया था

लोकसभा चुनाव में लगेगा झटका!

आपको बता दें कि गुजरात हाईकोर्ट के फैसले से पहले कांग्रेस नेताओं को उम्मीद थी कि सूरत कोर्ट के फैसले पर रोक लग गई तो राहुल की सदस्यता बहाल हो सकते हैं लेकिन गुजरात कोर्ट के फैसले से सभी को बड़ा झटका लगा है. बताया जा रहा है कि अब राहुल गांधी गुजरात हाईकोर्ट के फैसले के खिलाफ सुप्रीम कोर्ट में अपील करेंगे. अगर राहुल गांधी को इस केस में वहां राहत मिल जाती है तो उनकी सांसदी बहाल हो जाएगी और वो 2024 का लोकसभा चुनाव लड़ पाएंगे लेकिन अगर ऐसा नहीं होता है तो वह 8 साल तक चुनाव नहीं लड़ पाएंगे. ऐसे में कांग्रेस को बड़ा नुकसान हो सकता है क्योंकि आगामी चुनाव में पीएम मोदी को टक्कर देने के लिए कांग्रेस के पास राहुल गांधी के अलावा कोई बड़ा चेहरा नहीं है. बताते चलें कि साल 2024 में लोकसभा के चुनाव होने हैं, ऐसे में राहुल गांधी की सांसदी बहाली न होने से आगामी चुनाव में कांग्रेस को बड़ा नुकसान हो सकता है, देखना होगा कि इस मामले में अब और क्या कुछ निकल कर सामने आता है.