15.1 C
New Delhi
Wednesday, February 1, 2023

कियारा आडवाणी संग शादी की खबरों पर सिद्धार्थ मल्होत्रा ने दिया रिएक्शन

बॉलीवुड अभिनेता सिद्धार्थ मल्होत्रा अपनी आने वाली...

रिलीज होने से पहले कोर्ट पहुंची अर्जुन कपूर की फिल्म ‘कुत्ते’, पोस्टर से जुड़ा है विवाद

बॉलीवुड अभिनेता अर्जुन कपूर,तब्बू,नसीरुद्दीन शाह जैसे दिग्गज...

बिहार में राजनीति ने बदली चाल! कुछ घंटे शेष फिर भी इस्तीफा देने को नहीं तैयार विधानसभा स्पीकर, जानिए क्यों?

Latest Indian Newsबिहार में राजनीति ने बदली चाल! कुछ घंटे शेष फिर भी इस्तीफा देने को नहीं तैयार विधानसभा स्पीकर, जानिए क्यों?

बिहार में आए दिन नए हंगामे देखने को मिल ही रहें हैं. कभी सत्ता की कुर्सी पर बैठने के लिए हंगामे होते हैं तो कभी उस मंत्री का नाम सुर्खियों में आ जाता है जिनकी कोर्ट में पेशी होती है लेकिन वो मंत्री पद की शपथ ले रहे होते हैं. इन दिनों बिहार की सियासत इसलिए गर्माई हुई है क्योंकि बिहार विधानसभा स्पीकर विजय सिन्हा ने इस्तीफा देने से मना कर दिया है. अब सवाल उठ रहें हैं कि आखिर विजय सिन्हा इस्तीफा देने से मना क्यों कर रहें हैं?

पार्टी कर रही इस्तीफे की मांग

आपको बता दें कि बिहार में सत्ता परिवर्तन हुए करीब 12 से 13 दिन हो गए लेकिन अब तक विजय सिन्हा ने विधानसभा अध्यक्ष पद से इस्तीफा नहीं दिया है और सत्ताधारी जेडीयू, आरजेडी पार्टी लगातार इस्तीफे की मांग कर रही हैं लेकिन वो इस्तीफा देने को तैयार नहीं हैं. बता दें कि विधानसभा अध्यक्ष का कहना है कि जो उन्हें नोटिस दिया गया है वह नियमों के खिलाफ है.

विजय कुमार सिन्हा ने दी सफाई

मिली जानकारी के मुताबिक, विजय कुमार सिन्हा ने कहा कि विगत दिनों में सत्ता को बचाए रखने के लिए जो कुछ भी हुआ उस पर इस समय कुछ भी कहना उचित नहीं होगा लेकिन इस दौरान विधायिका की प्रतिष्ठा पर जो प्रश्न खड़े किए गए हैं उस पर चुप रहना मेरे लिए अनुचित होगा. उन्होंने कहा कि विधानसभा के अध्यक्ष के रूप में मेरे खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव लाया गया मैंने अपने आपको विश्वास की कमी के रूप में नहीं देखा.

Also Read -   धनतेरस के शुभ अवसर पर प्रधानमंत्री मोदी जी ने 75 हजार युवाओं को दिया नियुक्ति पत्र

अपने पद से नहीं देंगे इस्तीफा

आपको बता दें कि, विधानसभा अध्यक्ष का कहना है कि वह अपने पद से इस्तीफा नहीं देंगे. उन्होंने कहा कि, मेरे खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव लाया गया है लेकिन मैंने खुद पर विश्वास रखा. अविश्वास प्रस्ताव का नोटिस सचिवालय को दिया गया जिसमें नियमों की अनदेखी की गई है. बताते चलें कि, कानून के मुताबिक विधानसभा स्पीकर विजय कुमार सिन्हा अधिकतम 14 दिन स्पीकर की कुर्सी पर रह सकते हैं. वहीं, महागठबंधन सरकार को 15 दिन इंतजार करना पड़ेगा. ऐसे में 14 दिनों का समय 23 अगस्त को खत्म हो रहा है और 24 अगस्त को सत्र शुरू होगा. बता दें कि सत्र शुरू होने से 1 दिन पहले हुए विधानसभा स्पीकर ने बता दिया है कि वह अपने पद से इस्तीफा नहीं देंगे.

Check out our other content

Check out other tags:

Most Popular Articles