किसी भी फ़िल्म में जितना ज़रूरी किरदार हीरो और हीरोईन का होता है उतना ही ज़रूरी किरदार एक विलेन का भी होता है. फिल्म में अगर कोई विलेन ना दिखाई दे तो फिल्म अधूरी सी लगती है. बहुत बार हीरो हीरोईन की एक्टिंग के साथ-साथ विलेन की शानदार एक्टिंग भी एक फ़िल्म को फ़्लॉप होने से बचाकर उसको सुपरहिट करवा देती है. एक अच्छी फ़िल्म में हमेशा विलेन को बहुत ज़्यादा क्रूर और पॉपुलर दिखाया जाता है जिसकी वजह से हीरो को विलेन को हारने के लिए बहुत ज़्यादा मेहनत करनी पड़ती है. बॉलीवुड में ऐसे बहुत से खलनायक है जिनसे सभी लोग भलीभांति परिचित है. इसके उल्टे फ़िल्मों में विलेन का रोल करने वाले अभिनेताओं के बेटे बॉलीवुड में कुछ ख़ास पहचान नहीं बना पाए और इन्हें कोई जानता भी नहीं हैं. आज हम आपको बॉलीवुड के विलेनों के ऐसे बेटों के बारे में बताने जा रहे जो फ़िल्मों में नहीं बना पाए पहचान.

 

3. डैनी डेंजोंगपा और उनके बेटे रिन्जिंग डेंजोंगप्पा

कात्या नाम आपको याद ही होगा. विलेन के अभिनय को बॉलीवुड में एक अलग मुक़ाम तक ले जाने वाले डैनी डेंजोंगपा किसी परिचय के मोहताज नहीं हैं. शायद आपको ना पता हो कि बहुमुखी प्रतिभा के धनि डैनी एक एक्टर होने के साथ-साथ सिंगर, आर्टिस्ट और फ़िल्म डायरेक्टर भी रह चुके हैं. गंगटोक में जन्में डैनी ने विलने के रोल में ऐसी छाप छोड़ी की उनके टक्कर का कोई दूसरा विलेन आज तक बॉलीवुड को नहीं मिल पाया है. वहीं बात की जाए डैनी के बेटे की तो डैनी के बटे का नाम  रिन्जिंग डेंजोंगप्पा है. रिन्जिंग डेंजोंगप्पा ने साल 2020 में रिलीज़ हुई फ़िल्म “Squad” से बॉलीवुड में कदम रखा था. हालाँकि  रिन्जिंग डेंजोंगप्पा को बॉलीवुड में वो सफलता नहीं मिल पाई जो उनके पिता को मिल थी.

Also Read -   असल ज़िंदगी में साथी कलाकारों को सरेआम थप्पड़ जड़ चुके हैं बॉलीवुड के ये 3 सितारे, थप्पड़ खाने वालों में आमिर खान भी है शामिल

Source: hindi.peepingmoon

2. अमरीश पुरी और उनके बेटे राजीव पुरी 

अमरीश पुरी किसी परिचय के मोहताज नहीं हैं. पंजाब के नवांशहर में जन्में अमरीश पुरी ने बॉलीवुड की एक से बढ़कर एक फ़िल्मों में काम किया है. अपने शानदार अभिनय के दम पर लोगों के दिलों पर राज करने वाले अमरीश पुरी ने बॉलीवुड की फ़िल्मों में ज़्यादातर विलेन के किरदार में ही नज़र आए है और फ़िल्मों में उनके द्वारा निभाए ग़ए विलेनों के किरदार को लोगों ने खूब सराहा भी है. मिस्टर इंडिया फ़िल्में में ”मोगैम्बो” का किरदार निभाने वाले अमरीश पुरी का प्रसिद्द डायलॉग “ मोगैम्बो खुश हुआ “ आज भी लोगों की ज़ुबान पर है. अमरीश पुरी ने बॉलीवुड की अनगिनत फिल्मों में काम किया है और भारतीय फ़िल्म जगत में खलनायकों की श्रेणी में अमरीश पुरी का नाम सबसे ऊपर आता है. वहीं बात की जाए अमरीश पुरी के बेटे की तो अमरीश पुरी के बेटे का नाम राजीव पुरी है. राजीव ने हमेशा बॉलीवुड से दूरी बनाकर रखी. मीडिया को दिए एक इंटरव्यू में राजीव ने बताया था कि उनके पिता अमरीश पुरी ने कहा था कि बॉलीवुड में बिलकुल भी कुछ ख़ास नहीं हैं तो तुम वहीं करो जो तुम्हें सही लगता है. इसलिए राजीव ने मर्चेंट नेवी ज्वाइन कर ली. वहीं राजीव के बेटे हर्षवर्धन पुरी यश राज फिल्म्स में बतौर असिस्टेंट डायरेक्टर काम कर रहे हैं.

Source: Scoopnest

1. अमजद खान और उनके बेटे शादाब खान

गब्बर से तो आप सभी भलीभांति परिचित होंगे. शोले फ़िल्म में अमजद खान के द्वारा निभाया गया गब्बर का किरदार आज भी लोगों के जहन में ताज़ा है. इस रोल ने अमजद खान को बॉलीवुड में एक अलग ही पहचान दिला दी थी. वैसे तो अमजद ने बॉलीवुड की बहुत सी फ़िल्मों में नेगेटिव रोल अदा किये है, लेकिन उनके द्वारा शोले फ़िल्म में निभाया गया गब्बर का किरदार लोग भूलते नहीं हैं. अमजद ने बॉलीवुड में अपनी एक अलग ही पहचान बना ली थी. वहीं बात की जाए अमजद के बेटे की तो अमजद के बेटे का नाम शादाब खान है. शादाब अपनी पहचान बनाने में बिलकुल असफल रहे.

Also Read -   छोटी उम्र में ही माँ बन गई थी बॉलीवुड की ये 3 अभिनेत्रियां, एक की उम्र तो थी 17 साल

Source: ekbharta

हालाँकि फ़िल्मों में करियर बनाने के लिए शादाब ने बहुत सी फ़िल्मों में काम ज़रूर किया, लेकिन उन्हें वो सफलता नहीं मिली जो उनके पिता अमजद को मिली थी.