Cyclone Michaung: चक्रवात ‘मिचौंग’ की देश में दस्तक, इस राज्य में सार्वजनिक अवकाश और 100 से ज्यादा ट्रेनें रद्द…जानिए अपडेट

0
6702
फाइल फोटो

बढ़ते प्रदूषण के साथ ठंड ने देश भर में दस्तक दे दी है. वहीं, पहाड़ी इलाकों में हुई बर्फबारी के बाद मैदानी इलाकों में बारिश हुई जिससे ठंड का प्रकोप अब और भी ज्यादा बढ़ गया है. हालांकि, अलग-अलग राज्यों में ठंड का अपना हिसाब किताब है कहीं ज्यादा ठंड पड़ रही है तो कहीं धूप भी निकलती है लेकिन इस बीच एक परेशान कर देने वाली खबर सामने आई है. बता दें कि बंगाल की खाड़ी के ऊपर बना गहरा दबाव चक्रवर्ती तूफान ‘मिचौंग’ में तब्दील हो गया है. आगे की अपडेट के बारे में बात करें तो ‘मिचौंग’ के अब और तीव्र होने और दक्षिणी आंध्र प्रदेश के तट से टकराने की आशंका बनी हुई है. इसी के चलते तमिलनाडु के चार जिलों में सार्वजनिक अवकाश भी घोषित कर दिया गया है.

फाइल फोटो

‘सभी ऐहतियात बरते गए हैं’
मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, तमिलनाडु सरकार ने कहा कि, ‘मिचौंग’ तूफान के मद्देनजर संभावित स्थिति से निपटने के लिए हर संभव ऐतिहासिक कदम उठाए गए हैं. पर्याप्त संख्या में आपदा मोचन बल के जवानों को भी तैनात किया गया है और संवेदनशील क्षेत्र के राहत केंद्र भी तैयार है. इतना ही नहीं कई सुविधाओं के साथ राहत शिविर भी तैयार किए गए हैं. अकेले चेन्नई में ही 162 राहत केंद्रों को तैयार किया गया है. वहीं, राजस्व और आपदा प्रबंधन मंत्री केकेएसएसआर रामचंद्रन और बिजली मंत्री थंगम थेनारासु ने स्थिति को संभालने के लिए राज्य की तैयारियों का निरीक्षण किया और कई जरूरी बातों को बताया. वहीं, तूफान को देखते हुए रेलवे ने करीब 118 ट्रेनों को रद्द कर दिया है इसके साथ ही आम जनता और मछुआरों को चक्रवर्ती तूफान के बारे में अलर्ट कर दिया गया है.

पीएम मोदी ने सीएम से फोन पर की बात
आपको बता दें कि तूफान ‘मिचौंग’ के उत्तर की ओर बढ़ने और गंभीर रूप में परिवर्तित होने की संभावना अब बढ़ रही है. बताया जा रहा है कि 110 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से हवाएं चल सकती हैं. इसको लेकर आंध्र प्रदेश सरकार का कहना है कि तूफान से नुकसान को कम करने और जनता की हिफाजत के लिए हर संभव प्रयास किया जा रहा है. वहीं, देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने तूफान ‘मिचौंग’ से आंध्र प्रदेश में संभावित संकट से निपटने की तैयारियों को लेकर राज्य के मुख्यमंत्री वाईएस जगन मोहन रेड्डी से फोन पर बातचीत की है, इसके साथ ही संकट से निपटने के लिए केंद्र सरकार की ओर से हर संभव मदद का भी भरोसा दिया गया है. बताते चलें कि तूफान ‘मिचौंग’ से लोगों की परेशानियां बढ़ सकती हैं. हांलाकि, राज्य और केंद्र सरकारें इससे निपटने के लिए पूरी तरह तैयार हैं. रेलवे ने भी कई ट्रेनें रद्द कर दी हैं, देखने वाली बात होगी कि इस तूफान का जनता पर कैसा असर पड़ता है. हालांकि, कहा जा रहा कि ‘मिचौंग’ ज्यादा तबाही न मचाए.