Ram Mandir Inauguration Ceremony: राम रंग में रंगे कांग्रेस नेता राहुल गांधी…यात्रा के दौरान हनुमान जी का मुखौटा लगाए आए नजर, गदा भी पकड़ा

0
29682

कांग्रेस नेता राहुल गांधी के नेतृत्व में ‘भारत जोड़ो न्याय यात्रा’ जारी है. यात्रा के दौरान कांग्रेस नेता राहुल गांधी का एक अलग रूप देखने को मिला. जी हां, राहुल गांधी हनुमान जी का मुखौटा लगाए और हाथ में गदा पकड़े नजर आए. कांग्रेस नेता की ये तस्वीर ऐसे समय सामने आई है जब रामलला की प्राण प्रतिष्ठा नजदीक है और पूरा माहौल ही राममय नजर आ रहा है. बता दें कि शुक्रवार को राहुल की यात्रा असम के जोरहाट जिले से शुरू हुई. वो निमती घाट से माजुली द्वीप पहुंचे और यहां पर पूजा अर्चना की. इसके बाद वो लोक कलाकारों से मिले, इस दौरान ही उन्होंने भगवान हनुमान का मुखौटा पहना और हाथ में गदा पकड़ा.

बीजेपी पर निशाना
मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, राहुल गांधी ने असम में भारत जोड़ो न्याय यात्रा के दूसरे दिन जनसेवा को संबोधित करते हुए कहा कि, ‘हम आपको आदिवासी कहते हैं जिसका अर्थ है आदिकाल से रहने वाले, बीजेपी आपको वनवासी कहते हैं जिसका अर्थ है वन में रहने वाले लोग. हम चाहते हैं कि जो आपका है उसे आपको लौटाया जाना चाहिए. राहुल गांधी की पुरानी यात्रा का जिक्र करते हुए उन्होंने कहा कि, 2022-23 में कन्याकुमारी से कश्मीर तक की भारत जोड़ो यात्रा सफल रही थी इसलिए हमने मणिपुर से मुंबई तक की यात्रा निकाली क्योंकि लोगों ने पूर्व से पश्चिम तक इसी प्रकार की यात्रा निकालने की अपील की थी. वहीं, बीजेपी पर निशाना साधते हुए उन्होंने कहा कि बीजेपी ने मणिपुर जला के रख दिया है, वहां कई महीने से गृह युद्ध जैसे हालात हैं लेकिन पीएम एक बार भी वहां नहीं गए…’

फाइल फोटो

20 मार्च को यात्रा का समापन
आपको बता दें कि कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने पिछले दिनों अपनी यात्रा के दौरान पीएम पर तंज कसते हुए कहा कि, ‘मुझे शर्म आती है कि पीएम ने 9 साल पहले नागी समुदाय से किया हुआ वादा पूरा नहीं किया. यदि आप समाधान नहीं कर सकते तो आपको झूठ बोलने की भी जरूरत नहीं है. हम जानते हैं कि आपके मुद्दे बेहद गंभीर है और आपको समाधान की भी आवश्यकता है. राहुल गांधी ने कहा कि नागालैंड के लोगों को विश्वास में लिए बगैर और नागालैंड से बातचीत किए बिना समाधान नहीं हो सकता है…’ बताते चलें कि 14 जनवरी से शुरू हुई कांग्रेस की भारत जोड़ो न्याय यात्रा 20 मार्च तक चलेगी. देखने वाली बात होगी कि आखिर लोकसभा चुनाव में कांग्रेस की इस यात्रा की कितनी भूमिका रहती है.