वैसे तो बॉलीवुड की फ़िल्मों में हमेशा ही हीरो हीरोईन का बोल बाला रहता हैं और इन दोनों के किरदार को ही लोगों का भरपूर प्यार मिलता है और लोग इन्हें सिर आँखों पर रखते हैं, लेकिन वहाँ जब कोई बहुत ख़ास और तीसरा किरदार आ जाता है तो लोगों की नज़र उस किरदार से भी एक मिनट के लिए बिलकुल भी नहीं हटती हैं. जिस तीसरे किरदार की बात हम कर रहे हैं वो किरदार कोई और नहीं बल्कि तीसरा लिंग यानि ट्रांसजेंडर (किन्नर) का है. ये एक ऐसा किरदार है जिसको करने से पहले कोई भी कलाकार एक बार ज़रूर सोचता है, लेकिन बॉलीवुड में ऐसे बहुत से अभिनेता है जिन्होंने फ़िल्मों में किन्नर के किरदार को जिया और बखूबी निभाया भी है. आज हम आपको बॉलीवुड के ऐसे ही अभिनेताओं के बारे में बताने जा रहे हैं जिन्होंने फिल्मों में निभाया किन्नर का किरदार और उनके इस किरदार को भी लोगों ने सिर आँखों पर रख लिया.

3. परेश रावल

परेश रावल ने बॉलीवुड को एक से बढ़कर एक कई सुपरहिट फिल्में दी हैं. कहा जाता है कि परेश रावल फ़िल्मों में जिस भी किरदार को निभाते हैं उस किरदार में अपने अभिनय से जान फूंक देते हैं. बता दें कि साल 1997 में रिलीज़ हुई फ़िल्म ”तमन्ना” में अभिनेता परेश रावल ने किन्नर टिक्कू का किरदार निभाया था. इस फिल्म में एक किन्नर के जीवन को बहुत ही सकारात्मक तरीक़े से दिखाया गया था. परेश रावल के द्वारा निभाए ग़ए किन्नर के किरदार को लोगों का भरपूर प्यार मिला था. सामाजिक मुद्दे पर बनी ”तमन्ना” फ़िल्म को साल 1997 में राष्ट्रीय पुरुस्कार से भी नवाजा गया था.

Also Read -   बॉलीवुड के इन सितारों ने फ़िल्मों में रोमांटिक सीन करते हुए खो दिया था कंट्रोल, एक अभिनेत्री ने तो जड़ दिया था थप्पड़

Source: Zee News

2. सदाशिव अमरापुरकर

जब बॉलीवुड में ट्रांसजेंडर किरदारों की बात की जाती है तो सबकी ज़ुबान पर सदाशिव अमरापुरकर का नाम भी ज़रूर आता है. जी हाँ साल 1991 में महेश भट्ट के निर्देशन में बनी ”सड़क” फिल्म में लीड रोल में तो संजय दत्त और पूजा भट्ट थे, लेकिन इस फिल्म में सदाशिव अमरापुरकर के द्वारा निभाए गए किन्नर के किरदार को लोगों ने सिर आँखों पर रख लिया था. सदाशिव अमरापुरकर के द्वारा निभाया गया किन्नर का किरदार आज भी लोगों के जहन में ताजा है. अगर इस फिल्म को कोई आज भी देख ले तो सदाशिव अमरापुरकर की किन्नर की एक्टिंग को देखकर अच्छे-अच्छों के डर के मारे पसीने छूट जाते हैं. बता दें कि सदाशिव अमरापुरकर को उनके इस किन्नर के रोल के लिए बेस्ट निगेटिव किरदार के लिए फिल्मफेयर का अवॉर्ड से सम्मानित किया गया था. कहा तो ये भी जाता है कि लोग तो सच में सदाशिव अमरापुरकर से डरने लग गए थे.

1. आशुतोष राणा

बॉलीवुड अभिनेता आशुतोष राणा फ़िल्मों में जिस भी किरदार को निभाते हैं उस किरदार में अपनी एक्टिंग से जान फूंक देते हैं. वैसे तो आशुतोष ने बॉलीवुड की फ़िल्मों में हर तरह के किरदार निभाए हैं, लेकिन साल 1999 में आई फ़िल्म ”संघर्ष” में आशुतोष के द्वारा निभाए गए किरदार लज्जा शंकर पांडेय को कोई आज तक नहीं भूल पाया है. हिंदी फ़िल्मों के इतिहास में आशुतोष राणा के विलेन वाले इस किरदार को देखकर आज भी लोगों के डर के मारे पसीने निकल जाते हैं. इस फ़िल्म में किन्नर बने आशुतोष बच्चों को पकड़कर उन्हें जान से मार देते थे. उनका ये किरदार बहुत ही ज़्यादा ख़ौफ़नाक था. इस फ़िल्म में आशुतोष की ज़बरदस्त एक्टिंग के लिए उन्हें बेस्ट विलेन के फिल्मफेयर अवॉर्ड से भी सम्मानित किया गया था.

Also Read -   Gujarat and Himachal Election Results 2017-Will this affect 2019 election?

Source: Patrika 

वहीं बात की जाए इस फ़िल्म के मेन लीड की तो इस फ़िल्म में मेन लीड में अक्षय कुमार और प्रीति जिंटा नज़र आए थे. ”संघर्ष” फ़िल्म के अलावा आशुतोष ने ”शबनम मौसी” फ़िल्म में एक ऐसे किन्नर का रोल निभाया था जिसको राजनीति में कदम रखने के लिए बहुत ज़्यादा मुश्किलें झेलनी पड़ती हैं. शबनम मौसी एक ऐसी किन्नर थी जिन्होंने पहली बार चुनाव लड़ा और जीता भी था.