Amit Shah On Congress: अमित शाह का कांग्रेस पर जुबानी हमला, कहा- ‘ये मौनी बाबा की नहीं मोदी की सरकार है…’

0
250

मिशन ‘2024’ को लेकर सभी पार्टियों के बीच वार-पलटवार का सिलसिला लगातार देखने को मिल रहा है. वहीं, देशभर में ताबड़तोड़ रैलियों का दौर भी जारी है. इसी कड़ी में सोनेलाल पटेल की 74वीं जयंती के मौके पर देश के गृहमंत्री अमित शाह लखनऊ पहुंचे जहां से उन्होंने कांग्रेस पर जमकर जुबानी हमला बोला. इतना ही नहीं उन्होंने मनमोहन सिंह, सोनिया गांधी और राहुल गांधी को सर्जिकल स्ट्राइक की भी याद दिला दी. बता दें कि केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने कहा कि, ‘यूपीए की सरकार थी तो आए दिन पाकिस्तान से आतंकवादी हमारे जवानों को मार कर चले जा रहे थे, एक बार मोदी शासन में भी हिमाकत की लेकिन वो ये नहीं जानते थे कि अब मौनी बाबा मनमोहन सिंह का शासन नहीं मोदी सरकार है…भारतीय सैनिकों ने पाकिस्तान में घुसकर आतंकवादियों को मार गिराया था.’

फाइल फोटो

शाह ने की सीएम योगी की तारीफ
मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, लखनऊ में केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने जनसभा को संबोधित करते हुए दलित, पिछड़ा वर्ग और कानून व्यवस्था पर अपनी राय दी. इतना ही नहीं उन्होंने सूबे की योगी सरकार के कामों की जमकर तारीफ भी की. सीएम योगी की तारीफ करते हुए केंद्रीय गृह मंत्री ने कहा, ‘सीएम योगी कानून व्यवस्था पटरी पर लाए हैं, दलित-पिछड़ा वर्ग को पटरी पर लाए हैं. आज सपा-बसपा की विघटनकारी नीतियों से यूपी को निजात मिली है. यूपी में योगी के नेतृत्व में इंडस्ट्रियल इन्वेस्टमेंट आ रहा है और मोदी की योजना गरीब तक पहुंच रही…’ वहीं, अमित शाह ने जनता से आगामी चुनाव में एनडीए को भारी बहुमत से जिताने की भी अपील की.

फाइल फोटो

यूपी में अनगिनत कार्य हुए
आपको बता दें कि केंद्रीय गृह मंत्री ने यूपी के अनगिनत कार्यों को बताया. उन्होंने कहा कि, मोदी सरकार ने पिछड़ा समाज के लिए आयोग बनाकर पिछड़ा समाज को संवैधानिक मान्यता दिलाई है. जब 2014 में मोदी जी को चुना गया तो उन्होंने कहा था मेरी सरकार दलित पिछड़ों की सरकार है, उन्होंने जो कहा वो करके दिखाया. इतना ही नहीं केंद्रीय गृह मंत्री शाह ने केंद्र और यूपी की सरकार की योजनाओं का भी जिक्र किया. उन्होंने इसका करते हुए कहा, ‘बीजेपी सरकार ने 3 करोड़ से ज्यादा आवास देने का काम किया है, यूपी में मोदी-योगी ने 1 करोड़ 75 लाख महिलाओं को गैस सिलेंडर देने का काम किया है…बताते चलें कि विपक्षियों पर निशाना और खुद की सरकार की तरफदारी हर एक पार्टी की ओर से की जा रही है, देखना होगा आगामी चुनाव पर इसका कैसा असर पड़ता है.