बॉलीवुड के इन 3 सितारों ने बेटों को एक्टर बनाने के लिए उड़ाई अपनी रातों की नींद,लेकिन बस पहले नंबर वाले को मिली कामयाबी

0
196

बॉलीवुड फिल्म इंडस्ट्री में हर साल बहुत से अभिनेता फिल्मों में कदम रखते हैं. इनमें से कुछ छोटे शहरों से आए हुए कलाकार होते है जो खुद की मेहनत और लगन के दम पर बॉलीवुड में कदम रखते है और यहाँ अपनी जगह पक्की करते हैं. वहीँ कुछ दिग्गज कलाकारों के बच्चे भी होते हैं. ये दिग्गज कलाकार अपने बच्चों को फिल्मों में काम दिलवाने के लिए कड़ी मेहनत करते हैं और पूरी कोशिश करते है कि उनके बच्चों का फिल्मों में करियर बन जाए. कुछ तो अपने बच्चों का फिल्मों में करियर बनाने में सफल रहे, लेकिन कुछ के हाथ बस असफलता ही लगी और उनके बच्चे अपनी एक्टिंग से लोगों के दिलों में जगह नहीं बना पाए. आज हम आपको बॉलीवुड के ऐसे ही सितारों के बारे में बताने जा रहे हैं जिन्होंने अपने बच्चों को फिल्मों में सफल होने के लिया लगा लिया दिया ऐड़ी चोटी का जोर, लेकिन बस एक ही अभिनेता अपने बेटे को कामयाब होते हुए देख पाया.

3. अमिताभ बच्चन

बॉलीवुड में शहंशाह के नाम से जाने जाने वाले अभिनेता अमिताभ बच्चन किसी परिचय के मोहताज़ नहीं हैं. अमिताभ बच्चन ने बॉलीवुड को एक से बढ़कर एक बहुत सी सुपरहिट फिल्में दी है. अमिताभ ने लगभग चार दशक तक बॉलीवुड पर राज किया है और इसी वजह से देश और विदेश में उनके लाखों चाहने वाले हैं. लोग अमिताभ की एक झलक पाने के लिए उनके घर के बाहर लाइन लगाकर खड़े रहते हैं. वहीं बात की जाए अमिताभ के बेटे अभिषेक बच्चन की तो अभिषेक बच्चन ने साल 2000 में रिलीज़ हुई फ़िल्म ”रिफ्यूजी” से बॉलीवुड में कदम रखा था. हालाँकि ये फिल्म बॉक्स ऑफ़िस पर बुरी तरह से फ़्लॉप रही, लेकिन समय के साथ अभिषेक बच्चन ने बॉलीवुड की बहुत सी हिट और फ़्लॉप फ़िल्मों में काम किया. हालाँकि उनकी गिनती बॉलीवुड के दिग्गज अभिनेताओं में नहीं की जाती हैं.

Source: Patrika

2. जितेंद्र

80 के दशक में जितेंद्र की गिनती बॉलीवुड के दिग्गज अभिनेताओं में की जाती थी. उस दौर में जितेंद्र ने बॉलीवुड की जितनी भी फिल्मों में काम किया है वो सभी फिल्में बड़े पर्दे पर सुपरहिट रही है. अपने दमदार अभिनय के दम पर ही जितेंद्र ने लोगों के दिलों पर राज किया है. लोगों को जितेंद्र की फिल्में रिलीज होने का बेसब्री से इंतज़ार रहता था. जितेंद्र जिस भी अभिनेत्री के साथ काम करते थे उसके साथ उनकी केमिस्ट्री जम जाती थी और लोग उनके अभिनय को भी सराहते थे. पिता जितेंद्र के नक़्शे कदम पर चलते हुए उनके बेटे तुषार कपूर ने बॉलीवुड में करियर बनाने का फ़ैसला किया, लेकिन उन्हें वो शोहरत नहीं मिल पाई जो उनके पिता जितेंद्र को मिली थी. तुषार ने साल 2001 में रिलीज हुई फिल्म ”मुझे कुछ कहना है” से बॉलीवुड में कदम रखा था, लेकिन ये फिल्म भी कुछ खास नहीं चल पाई और तुषार का फ़िल्मी करियर ज्यादा नहीं चल पाया.

Source: Times Of India

1. सुनील दत्त

किसी दौर में सुनील दत्त की गिनती बॉलीवुड के दिग्गज अभिनेताओं में की जाती थी. सुनील दत्त ने अपने फ़िल्मी करियर में बॉलीवुड को बहुत सी हिट और सुपरहिट फ़िल्में दी है. सुनील दत्त की एक्टिंग के लोग कायल थे और उनके फिल्मों के रिलीज होने का इंतज़ार करते थे. वहीँ बात की जाए सुनील दत्त के बेटे की तो सुनील दत्त के बेटे संजय दत्त ने साल 1981 में रिलीज हुई फिल्म ‘‘रॉकी” से बॉलीवुड में कदम रखा था. अपने एक्टिंग करियर में संजय ने बॉलीवुड की एक से बढ़कर एक सुपरहिट फिल्मों में शानदार अभिनय कर बॉलीवुड में अपनी जगह पक्की की है. संजय दत्त की एक्टिंग लोगों को खूब पसंद आती है.

Source: Times Of India

अपनी एक्टिंग की वजह से ही संजय दत्त ने लोगों के दिलों में एक खास जगह बनाई हुई है, इसलिए अगर देखा जाए तो सुनील दत्त बॉलीवुड के ऐसे इकलौते अभिनेता है जो अपने बेटे को बॉलीवुड में कामयाब होते हुए देख पाए है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here