24.1 C
New Delhi
Friday, December 9, 2022

एक दो नही 14 बार इस बन्दे ने जीती लाटरी,फिर सरकार ने भेजा जेल क्योकि

Current Newsएक दो नही 14 बार इस बन्दे ने जीती लाटरी,फिर सरकार ने भेजा जेल क्योकि

दोस्तो आपने अक्सर सुना होगा समय बदलते देर नही लगती या यदि किस्मत मेहरबान हो जाए तो रंक को भी राजा बना देती है ।ये सिर्फ कहने के लिए है या सच में ऐसा कुछ होता भी है ।चलो किसी के साथ ऐसा एक या दो बार हो तो मान भी लें ।लेकिन यदि किसी की किस्मत इतनी चमक जाए की उस शख्स पर लगातार मां लक्ष्मी की कृपा हो रही हो तो कोई यकीन नही कर पायेगा और सबके मन में यही सवाल उठेगा यह कैसे हो सकता है ।आज हम आपको एक ऐसे ही शख्स के बारे में बताने वाले है जिस पर धन के देवी देवता ने ऐसी कृपा की कि उस पर धन की ऐसी बरसात हुई कि सरकार को भी उस शख्स पर बैन लगाना पड़ा ।क्या है पूरा मामला जानने के लिए खबर को अंत तक जरूर पढ़े।

1960 में रोमानिया में कम्युनिस्ट शासन हुआ करता था. देश के हालात इतने बुरे थे कि बेरोजगारीकी वजह से भुखमरी बढती जा रही थी .सभी की तरह स्टीफन मेंडल नाम का एक युवा भी इन हालातो से जूझ रहा था.बेशक उसके पास नौकरी थी लेकिन कमाई इतनी नहीं थी कि जिससे परिवार का गुजारा हो पाए .हालात ऐसे बदत्तर हो गये ठे कि कई युवाओ ने अपराध की दुनिया में कदम रख दिया था लेकिन स्टीफन ने ऐसा रास्ता न चुनकर अपने इमान पर कायम रहा. अपनी आर्थिक हालातो को ठीक करने के लिए कुछ करना भी जरूरी था .ऐसे में स्टीफन को एक युक्ति सूझी और उसने लॉटरी के क्षेत्र में कदम रखा .लॉटरी के क्षेत्र में सब लक का खेल है .लेकिन स्टीफन कच्चा खिलाडी नहीं था उसने ऐसी तरकीब निकली जिससे उसकी जीत सम्भव थी .उन्होंने कोई गलत काम न करते हुए गणित का सहारा लिया.

Also Read -   एक नज़र में इस तस्वीर को देख घूम जायेगा आपका दिमाग, सिर्फ तेज दिमाग वाले ही देंगे सही जवाब

लॉटरी से लॉटरी फर्म तक का सफर

रिपोर्ट के मुताबिक सिस्टम को क्रैक करने के लिए स्टीफन ने एक फॉर्म्युला तैयार किया जिसे उसने अपने गणित के ज्ञान का इस्तेमाल करके बनाया था .जिसके बाद स्टीफन का भाग्य चमक गया .रोमानिया में अर्थशास्त्री के तौर पर काम करने के दौरान स्टीफन ने 5 अंकों के फॉर्मूले से अनुमान लगाना शुरू कर दिया था जो कि  6वें नंबर का सटीक अनुमान था .इनाम जीतने के बाद स्टीफन ऑस्ट्रेलिया में जाकर रहने लगे . यहां भी  उन्होंने वैसा ही किया और उन्होंने जीतना और  बड़ा इनाम पाना अपने जीवन का लक्ष्य बना लिया.उन्होंने इस फ़ॉर्मूले  से कुल 14 लॉटरियां जीतीं.बार बार जीत हासिल करने पर वे ऑस्ट्रेलियाई अधिकारियों की नजर में आगये .कानून का उल्लंघन नहीं करने पर भी  स्टीफन को ब्लॉक करने के लिए कड़े नियम बनाये गये .जिसके बाद एक आदमी के लिए लॉटरी के सभी टिकट खरीदना गैरकानूनी करार कर दिया गया.लेकिन इसके बाद स्टीफन को पांच पार्टनर्स मिल गये और वो ग्रुप में लॉटरी टिकट खरीदने लगे लेकिन बाद में  ग्रुप में लोगों के सभी लॉटरी टिकट खरीदने पर भी पाबंदी लगा दी गयी तो स्टीफन ने लॉटरी फर्म ही खड़ी कर दी.

बना डाला लॉटरी जीतने वाला सॉफ्टवेयर

स्टीफन को जब ऑस्ट्रेलिया में दिक्कत आने लगी तो उन्होंने अमेरिकी लॉटरी सिस्टम पर ध्यान केन्द्रित किया और 3 करोड़ डॉलर से ज्यादा कमाए.स्टीफन ने 14 लॉटरिओ में से  रोमानिया में 1 लॉटरी,ऑस्ट्रेलिया में 12 और अमेरिका के वर्जीनिया में सबसे बड़ा जैकपॉट जीता. जिसे जीतने के चक्कर में लोग कई बार नाकाम हुए .लेकिन कई बार स्टीफन को भी कामयाबी के बीच नुकसान  उठाना पड़ा.स्टीफन जिब्राल्टर में जीत नही पाए और इस्राइल में तो उन्हें 20 साल की जेल भी हुयी .जिसके बाद स्टीफन के लॉटरी जीतने के फार्मूले पर प्रतिबंध लगा दिया गया .स्टीफन का मानते है कि वे गणितीय योग्यता की मदद से जोखिम उठाते आये है और हर काम उन्होंने कानून के दायरे में रह  कर किया है .स्टीफन ने लॉटरी जीतने के लिए विनिंग नंबर का कैलकुलेशन करने के वाला सॉफ्टवेयर भी बनाया है. जिसकी मदद से  विनिंग नंबर का कॉम्बिनेशन आसानी से बना पाते है जिसके  लिए उन्होंने 16 लोगों को नौकरी दी है .उन्हें एक बार लॉटरी जीतने पर तक़रीबन 15 हजार पौंड यानी 14 लाख रुपये मिलते थे.

Check out our other content

Check out other tags:

Most Popular Articles